सिर दर्द की वजह क्या है? इसके लिए घरेलू उपचार-What Causes Headache? Home remedies for it

Share:

ये चीजें सिरदर्द के लिए उपयोगी in hindi, These things are useful for headache in hindi,सिर दर्द की अपनी घरेलू दवा  in hindi, Home medicine for headache  in hindi,sir dard ki vajah kya hai? iske liye ghareloo upachaar hindi, sir dard ki vajah kya hai? iske liye ghareloo upachaar hindi article, sir dard ki vajah kya hai? iske liye ghareloo upachaar hindi pdf,sakshambano ka matlab in hindi, What Causes Headache? Home remedies for it in hindi,  सिर दर्द की वजह क्या है? इसके लिए घरेलू उपचार hindi, Home remedies for headache in hindi, (Headache is a problem that can occur to anyone in hindi, There are some people who take headache medicine without getting medical advice to get rid of it quickly which is not right in hindi, sar dard ka ramban ilaj hindi, sar dard ka desi totka hindi, sar dard ka gharelu nuskha in hindi, sir dard kyu hota hai in hindi, sir dard kaise thik kare hindi, sir dard ke liye gharelu upay in hindi, bukhar aur sir dard ka gharelu ilaj in hindi, bukhar ka gharelu upchar in hindi, headache ka upchar in hindi, types of headache in hindi, tension headache in hindi, back side head pain reason in hindi,back head pain causes in hindi, hypertension headache in hindi, headache pdf in hindi meaning, headache pdf in hindi meaning, headache image, headache jpeg, headache photo, headache article in hindi,   सक्षम hindi, sakshambano in hindi, sakshambano in eglish, sakshambano meaning in hindi, sakshambano in hindi, sakshambano ka matlab in hindi, sakshambano photo, sakshambano photo in hindi, sakshambano image in hindi, sakshambano image, sakshambano jpeg, sakshambano site in hindi, sakshambano wibsite in hindi, sakshambano website, sakshambano india in hindi, sakshambano desh in hindi, sakshambano ka mission hin hindi, sakshambano ka lakshya kya hai,  sakshambano ki pahchan in hindi,  sakshambano brand in hindi,  sakshambano company in hindi,  aaj hi sakshambano in hindi, phir se sakshambano in hindi, abhi se sakshambano in hindi, app bhi sakshambano in hindi,

सिर दर्द की वजह क्या है? इसके लिए घरेलू उपचार 
(What Causes Headache? Home remedies for it in hindi)

सिर दर्द एक ऐसी समस्या है जो किसी को भी हो सकती है। (Headache is a problem that can occur to anyone) कई लोग इसे सामान्य समझ कर अनदेखा कर देते हैं। (Many people ignore it as normal) ज्यादा थकान, तनाव, लगातार ज्यादा देर गैजैट्स आदि का इस्तेमाल करने के कारण इस समस्या का सामना करना पड़ता है। कई लोगों के सुबह उठते ही सिरदर्द की समस्या हो जाती हैं। ऐसे में पूरा दिन आपका सिर भारी रहता है। कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इससे जल्द छुटकारा पाने के लिए बिना डॉक्टरी परामर्श के सिर दर्द की दवा ले लेते हैं जो कि ठीक नहीं है। (There are some people who take headache medicine without getting medical advice to get rid of it quickly which is not right) इसके होने के पीछे सामान्य से लेकर कई गंभीर सिर दर्द के कारण हो सकते हैं।

तनाव से होने वाला सिरदर्द यह सबसे आम सिरदर्द है। इस तरह के सिरदर्द में व्यक्ति अपने सिर के दोनों तरफ तेज दर्द महसूस करता है, जैसे कोई सिर को दोनों ओर से रबर बैंड से दबा रहा हो। सिर, गर्दन, कंधे और जबड़ों में कसावट महसूस होना। सोने में परेशानी होना। स्कैल्प, गर्दन और सिर के पिछले हिस्से में दर्द महसूस होना। तनाव, शोर या थकावट से दर्द बढ़ सकता है। माइग्रेन में होने वाला दर्द सिर के एक तरफ होता है इसमें मरीज को सिर में कोई चीज चुभने जैसा दर्द होता है। (Migraine pain occurs on one side of the head, in which the patient feels pain like pricking something in the head) माइग्रेन कम से शुरू होता है और धीरे-धीरे तेज होने लगता है। मतली या उल्टी होना। रौशनी से परेशानी होना।


 
सिर दर्द के घरेलू उपाय
(Home remedies for headache)

साइनस की वजह सिरदर्द (Headache due to sinus) : साइनस में दर्द सिर के आगे के हिस्से में और चेहरे पर महसूस होता है। इस तरह का सिरदर्द तब होता है जब गाल, नाक, सिर व आंखों में साइनस कैविटी हो जाती है। यह सिरदर्द तब और ज्यादा तीव्र हो जाता है। सुबह उठने के बाद इंसान आगे की ओर झुकता है या सिर को झुकाता है। नाक बहना। नाक बंद होना। चेहरे पर दबाव महसूस होना या दर्द होना। सांस में बदबू। गले में दर्द। कफ।

सिरदर्द के लिए ठंडी सेंक (Cold compress for headache) : गर्मी के दिनों में सिरदर्द की परेशानी हो रही है तो बर्फ के टुकड़ों को आइस बैग में भरकर अपने माथे, गर्दन और पीठ पर 10 से 15 मिनट के लिए रख सकते है।

सिरदर्द के लिए अदरक मददगार (Ginger Helpful for Headache) : अदरक एक आयुर्वेदिक औषधि की तरह माइग्रेन में असरदार हो सकता है। तीन से चार दिनों तक 400-500 मिलीग्राम अदरक पाउडर का हर चार घंटे के अंतराल में सेवन माइग्रेन की समस्या का कम किया जा सकता हैफ।

तुलसी के पत्ते करे सिरदर्द की छुट्टी (Tulsi leaves relieve headache): (पवित्रता की शक्ति तुलसी) तुलसी का एसेंशियल ऑयल सिरदर्द से कुछ देर का आराम दिलाने में मदद कर सकता है। तुलसी तनाव के लक्षणों को कम करने में सहायक हो सकती है और सिरदर्द तनाव के लक्षणों में से एक है।

सिरदर्द के लिए पुदीने का तेल (Peppermint oil for headache) :  पुदीने का तेल लाभकारी हो सकता है। यह तेल न सिर्फ ठंडक महसूस कराएगा बल्कि सिरदर्द से राहत दिलाने में भी सहायक हो सकता है। यह खासतौर पर तनाव सिरदर्द के लिए उपयोगी हो सकता है। पुदीने में मेन्थॉल भी होता है जो माइग्रेन सिरदर्द से राहत दिलाता है।

पर्याप्त विटामिन सिरदर्द के लिए (Enough Vitamins for headaches) :  सिरदर्द, विशेषकर माइग्रेन सिरदर्द विटामिन के सेवन से भी ठीक हो सकता है। यहां राइबोफ्लेविन नामक विटामिन का सेवन कारगर साबित हो सकता है। राइबोफ्लेविन प्राकृतिक रूप से कई खाद्य पदार्थों, दूध, अंडा, नट्स और हरी पत्तेदार सब्जियों में पाया जाता है। यह माइग्रेन यानी आधा सिर दर्द का इलाज करने में मदद कर सकता है।

स्वस्थ स्वास्थ्य के लिए विटामिन जरूरी हैं


    सिर दर्द की अपनी घरेलू दवा
    (Home medicine for headache )

    सिरदर्द के लिए लौंग (Clove for headache) : लौंग को रूमाल में बांधकर सिरदर्द के दौरान सूंघ सकते हैं। एक या दो चम्मच लौंग के तेल को बादाम या नारियल तेल में मिलाकर माथे पर लगा सकते हैं। अधिक दर्द होने पर कुछ घंटो के अंतराल में इस मिश्रण से लगातार माथे की मालिश करें। सिरदर्द से राहत पाने के लिए लौंग को पीसकर उसे चुटकी भर नमक और दूध के साथ भी सेवन किया जा सकता है।

    सिरदर्द के लिए नमक के साथ सेब का सेवन (Consuming apple with salt for headache) : सेब को काटकर उसे नमक के साथ खाने से भी सिरदर्द की समस्या से निजात मिल सकती है।

    सिरदर्द के लिए दालचीनी (Cinnamon for Headache) : (तेज पत्ता (डालचीनी) दालचीनी मसाला जिसे सिरदर्द के इलाज में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए दालचीनी के कुछ टुकड़ों को पीसकर पाउडर बना लें। इसके बाद इसमें पानी मिलाकर पेस्ट बना लें। इसके बाद इसे अपने माथे पर अच्छी तरह से लगाकर 25 मिनट के लिए छोड़ दें। 

    सिरदर्द के लिए कॉफी (Coffee for headache) : सिर दर्द का घरेलू इलाज करने के लिए कॉफी का सीमित मात्रा में सेवन किया जा सकता है। इसमें मौजूद कैफीन में एनाल्जेसिक गुण होता है जो सिरदर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकता है।

    ये चीजें सिरदर्द के लिए उपयोगी
    (These things are useful for headache)

    सिरदर्द के लिए कैमोमाइल (Chamomile for Headache) : कैमोमाइल एसेंशियल ऑयल या कैमोमाइल चाय भी प्रभावकारी हो सकती है। कैमोमाइल को सिरदर्द के लिए एक औषधि के रूप में सालों से उपयोग किया जाता रहा है।  कैमोमाइल जेल का उपयोग माइग्रेन मरीजों में 35 मिनट के अंदर असरदार साबित हो सकता है। कैमोमाइल एंटीडिप्रेसेंट की तरह भी काम कर सकता है।

    सिरदर्द के लिए कैप्साइसिन (Capsaicin for headache) : कैप्साइसिन, मिर्च में मौजूद एक महत्वपूर्ण यौगिक है जो सिरदर्द की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। कैप्साइसिन युक्त दवा का नेजल उपचार माइग्रेन और क्लस्टर सिरदर्द में लाभकारी हो सकता है। सिर दर्द की मेडिसिन के रूप में कैप्साइसिन युक्त जेल या बाम का उपयोग भी किया जा सकता है। 

    सिरदर्द के लिए चंदन (Sandalwood for headache) : चंदन के पेस्ट को अपने माथे पर थोड़ी देर के लिए लगा रहने दें और सूखने पर धो लें। चंदन के तेल को माथे पर लगाया जा सकता है। चंदन के तेल को सूंघ भी सकते हैं। इसके अलावा, गर्म पानी में चंदन के तेल की कुछ बूंदें डालकर भाप भी ले सकते हैं।

    सिरदर्द के लिए पान के पत्ते (Betel leaves for headache) : पान के पत्तों को पानी के साथ पीसकर उसमें कपूर का तेल मिलाएं। अब इस मिश्रण को अपने माथे पर लगाएं और 10 से 15 मिनट के लिए रहने दें। पान के पत्तों में एनाल्जेसिक यानी दर्द निवारक गुण मौजूद होता है जो सिर दर्द ठीक करने  में कारगर हो सकता है।  

    No comments