शुगर पीड़ितों के अच्छे दिन अवश्य आते हैं-Sugar victims must have good days

Share:

 

अब नहीं होगी अनिद्रा की समस्या Now there will be no problem of insomnia in hindi, पनीर का फूल शुगर पीड़ितों के लिए लाभकारी Paneer flower is beneficial for sugar sufferers in hindi,तेरे नाम का बटन हम  दबाएंगे, भारत माता की कसम है तुम्हें, इस देश को उत्त्म भारत बनाना है। जय हिन्द in hindi, सक्षमबनो in hindi, सक्षमबनो image, सक्षमबनो jpeg, सक्षमबनो pdf in hindi, सक्षमबनो ke barein mein in hindi, sakshambano in hindi, sakshambano website, sakshambano article in hindi, sakshambano pdf in hindi, sakshambano  jpeg, sakshambano sab in hindi, kaise sakshambano  in hindi, Sugar victims must have good days in hindi, Diabetes Remedy in hindi, paneer ka phool ke fayde in hindi,  Benefits of Paneer Ke Phool in Hindi, panner ke phool uses in hindi, paneer ke phool kadha in hindi, paneer ke phool ka pani in hindi, paneer ke phool for diabetes  in hindi, paneer ke phool  for insomnia in hindi, paneer ke phool  for weight loss in hindi, paneer ke phool for skin in hindi, paneer ke phool boost immunity in hindi, paneer ke phool for skin in hndi

शुगर पीड़ितों के अच्छे दिन अवश्य आते हैं

(Sugar victims must have good days)

यह एक औषधि है जिसे Diabetes Management के लिए प्रयोग किया जाता है। यह ना केवल हमारे शरीर में insulin की मात्रा को रेगूलेट करती है बल्कि हमारे pancreas की उन बीटा सैल्स को भी रिपेयर करती है जो की insulin के उत्पादक होते हैं। type 2 diabetes में Pancreatic islets में मौजूद beta cells के डैमेज होने के कारण हमारी बॉडी insulin का उत्पादन करना बंद कर देती है। ऐसे में हमारे शरीर को इस काम के लिए एक बाहरी स्रोत की आवश्यकता होती है। और तब पनीर का फूल हमारी इस काम में सहायता करता है। इसका उपयोग आसान है। 7 से 10 पनीर के फूलों को पूरी रात पानी में डाल कर छोड़ दें। फिर सुबह खाली पेट उस पानी को पी जाएं। balanced diet और पनीर के फूल की मदद से हम निश्चित तौर पर insulin level को कंट्रोल कर सकते हैं।

पनीर फूल जिसका Scientific Name विथानिया कौयगुलांस है। यह Solanaceae परिवार का एक पौधा है, जिसे इंडियन चीज मेकर, इंडियन रिनेट, पनीर डोडी, पनीर डोडा, पनीर बेड व कई अन्य नामों से भी जाना जाता है। संस्कृत में इसे ऋष्यगंधा, उर्दू में पनिरदोडी, हिंदी में पनीर का फूल व पनीरबंद, बंगाली में पनीर फूल के नाम से जाना जाता है। इसका उपयोग पनीर बनाने के लिए भी किया जाता है। इसमें मौजूद औषधीय गुणों के कारण आयुर्वेद में इसे कई बीमारियों से बचाव व उनके इलाज के लिए लाभकारी माना गया है।

पनीर का फूल शुगर पीड़ितों के लिए लाभकारी (Paneer flower is beneficial for sugar sufferers) : Research में बताया गया है कि पनीर फूल के अर्क में anti diabetic गुण मौजूद होता है, जो blood sugar level को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। diabetes से शरीर के अदंर कई metabolic disorder उत्पन्न हो जाते हैं और blood sugar level भी बढ़ने लगता है। ये कई कारणों से हो सकता है जैसे की आपकी लाइफ स्टाइल और खाने की आदतें या फिर आपके परिवार में पहले से ये रोग रहा हो यानी जेनेटिक डिस्पोजिशन। डायबिटीज के मरीज को अपने खाने-पीने की आदतों का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा जाता है। जिससे इसे खत्म ना सही कम से कम काबू में तो रखा ही जा सके। health specialist इसके लिए कई तरह के प्राकृतिक उपाय सुझाते हैं जिनमें से एक है पनीर का फूल जिसे पनीर डोडा और और इंडियन रेनेट भी कहा जाता है। यह diabetes से लड़ने में बेहद मददगार साबित होते हैं। 

अब नहीं होगी अनिद्रा की समस्या (Now there will be no problem of insomnia) : पनीर के फूल के अर्क में Neuroprotective प्रभाव मौजूद होता है, जो मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता। अनिद्रा एक neurological यानी दिमाग संबंधी विकार है, जिसके कारण मस्तिष्क की कोशिकाएं नष्ट होने लगती हैं। पनीर के फूल अनिद्रा से छुटकारा दिलाने में फायदेमंद है। 

वजन करने में मददगार (Help with weight) : पनीर के फूल के एथेनॉलिक अर्क में anti obesity यानी मोटापे को कम करने वाला प्रभाव पाया जाता है। जो वजन कम करने में लाभकारी हो सकता है।

सर्दी-जुकाम और बुखार में लाभकारी (Beneficial in cold and fever) : पनीर के फूल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इनमें कई ऐसे औषधीय गुण होते हैं, जो शरीर की immunity को बढ़ाते हैं। पनीर के काढ़े का सेवन करके सर्दी-जुकाम और बुखार जैसी समस्याओं से निजात पा सकते हैं। 

अस्थमा में लाभकारी (Beneficial in asthma) : अस्थमा में पनीर फूल लाभकारी हो सकता है। आयुर्वेद से लेकर यूनानी पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों में पनीर फूल का इस्तेमाल asthma के इलाज के लिए किया जाता है। 

पनीर के फूल त्वचा के लिए फायदेमंद (Paneer flowers are beneficial for the skin) : कील-मुहांसों, एंटी एजिंग, दाग-धब्बों जैसी त्वचा समस्याओं को दूर करने के लिए भी पनीर के फूलों के पानी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए पनीर के फूल का पानी पी सकते हैं। आप चाहें तो पनीर के फूलों का पानी स्किन पर भी लगा सकते हैं। इससे आपको त्वचा संबंधी समस्याओं में काफी आराम मिलेगा।

घाव भरने में सहायक (Wound healing) :  पनीर का फूल में घाव भरन के गुण मौजूद होते है। cardiovascular प्रभाव पनीर फूल में मौजूद यह गुण heart को Healthy रखने व उससे जुड़ी बीमारियों में मददगार हो सकता है। anti inflammatory गुण सूजन संबंधी समस्याओं से राहत दिलाने में कारगर हो सकता है। anti fungal गुण किसी भी तरह के fungal से लड़ने व संक्रमण से बचाने में सहायक हो सकता है। hepatoprotective प्रभाव liver के स्वास्थ्य को बरकरार रखने का काम कर सकते हैं। immune-suppressive प्रभाव प्रतिरक्षा प्रणाली की सक्रियता या प्रभावकारिता में कमी को maintain करता है। मूत्रवर्धक प्रभाव शरीर के ऊतकों में मौजूद अतिरिक्त पानी और नमक को पेशाब के मार्ग से निकालने में सहायक माना जा सकता है।  

इस Article में हमने आपको पनीर के फूल की जानकारी उपलब्ध करवाई हैं। diabetes के अलावा पनीर के फूलों को उपयोग कई प्रकार की बीमारियों के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। यह अपनी सामान्य समस्याओं को दूर करने के लिए इसका सेवन कर सकते हैं। परन्तु अगर आपको कोई गंभीर रोग है, तो doctor की सलाह पर ही इसका सेवन करें।


अपनाएं आयुर्वेद लाइफस्टाइल (Adopt ayurveda lifestyle in hindi)

No comments