रूम हीटर से फायदा कम, नुकसान ज्यादा- Room heater has less advantage but more harmful

Share:

 

Precautions from Room Heaters in hindi, Hot Water Side Effects in hindi, Disadvantages and Precautions from Room in hindi, सक्षमबनो in hindi, सक्षमबनो image, सक्षमबनो jpeg, सक्षमबनो pdf in hindi, सक्षमबनो ke barein mein in hindi,

रूम हीटर से फायदा कम, नुकसान ज्यादा

(Room heater has less advantage but more harmful)

सर्दी के मौसम में अक्सर लोग घरो में इलेक्ट्रॉनिक हीटर या ब्लोअर का इस्तेमाल करते हैं, जिससे फायेदा कम नुकसान ज्यादा होता है। कई बार लोग नहाकर बाहर आते ही हीटर के सामने खुद को गर्म करने में लग जाते हैं। तो वहीं बहुत से लोग रातभर हीटर जलाकर ही सोते हैं। एक ओर जहां इलेक्ट्रॉनिक हीटर की गर्माहट तेज ठंड से कम करती है। वहीं दूसरी ओर इसका इस्तेमाल करने से बहुत परेशानियां भी हो सकती हैं। इलेक्ट्रॉनिक हीटर कमरे की हवा को गर्म तो बना देता है पर कमरे की सारी नमी भी चुरा लेता है। रूम हीटर जला रहे हैं, कमरे के दरवाजे, खिड़कियों को भी बंद करना पड़ता। बंद कमरे में रूम हीटर ऑन करके पड़े रहना सेहत के लिए काफी नुकसानदायक होता है। रूम हीटर से निकलने वाली मोनोऑक्साइड सेहत के लिए हानिकारक होती है। 

कमरे में मौजूद हवा नुकानदेही बन जाती है (The air in the room becomes harmful) : हीटर या ब्लोअर के माध्यम से बाहर निकलने वाली हवा कमरे के अंदर की हवा में मौजूद प्राकृतिक नमी को सोख लेती है। यह कमरे के अंदर की शुष्क नमी रहित हवा आपकी त्वचा में सूखापन व खुरदुरापन ला सकती है। यदि आपकी स्किन संवेदनशील है तो इससे आपको खुजली और स्किन पर लाल निशान भी हो सकते हैं।

कमरे में कार्बन मोनोऑक्साइड गैस का स्तर बढ़ने की संभावना (Chances of increasing the level of carbon monoxide gas in the room) : इलेक्ट्रिक फेन हीटर का इस्तेमाल लगातार करने से कमरे के अंदर जहरीली गैस जैसे कि कार्बन मोनोऑक्साइड का स्तर बढ़ने लगता है। जिससे शिशुओं के मस्तिष्क और नाक और सांस से संबंधित रोगों का खतरा बढ़ जाता है। अन्य के लिए भी बहुत खतरनाक साबित हो सकता है। इससे सांस से संबंधित अनेक रोग शुरू हो सकते हैं। अस्थमा के रोगियों के लिए तो यह जानलेवा हो सकता है।

आंखों में जलन की संभावना बढ़ जाती है (Increased chances of eye irritation) : इलेक्ट्रॉनिक हीटर न सिर्फ कमरे की हवा को शुष्क कर देता है बल्कि आंखों की नमी भी छीन लेता है जिससे ड्राई आई की समस्या हो जाती है। घर के कई हिस्सों में पानी भरकर रखें। ऐसा करने से घर की हवा में नमी बनी रहेगी। कमरे के अंदर की हवा एक-दम शुष्क नहीं होगी।

त्वचा में रूखापन (Dry skin) : हवा में नमी होना त्वचा के लिए भी अच्छा होता है, लेकिन हीटर के कारण कमरे की नमी चली जाती है और इसके दुष्परिणाम मिलते लगते हैं। 

सांस लेने में दिक्कत (Breathing problem) : कमरे हवा में नमी न रहने से सांस संबंधी समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। अस्थमा के मरीजों के लिए समस्याएं पैदा हो सकती है। नाक की झिल्ली सूखकर खून निकलने की समस्या भी हो सकती है। 

हीटिंग उपकरणों से स्वास्थ्य समस्याएं (Health problems from heating appliances) : जिस कमरे में हीटर का इस्तेमाल कर रहे हैं वहां आक्सीजन का स्तर कम होने से सुस्ती, जी मिचलाना और सिरदर्द जैसी समस्याएं आ सकती हैं। इन हीटरों से ऐसे रसायन निकलते हैं, जो श्वसन तंत्र को नुकसान पहुंचाते हैं। रूम के अंदर कार्बन डाइऑक्साइड का स्तर बढ़ जाता है, व घुटन हो सकती है। ऐसे रोगियों के फेफड़ों में बलगम जमा हो जाता है, जिसके कारण खांसी और छींक आती है।


रूम हीटर से होने वाले नुकसान से बचाव

 (Preventing damage from room heaters)

1) हीटर का उपयोग जब भी करें। कमरे में एक कटोरा या एक बाल्टी भरकर पानी जरूर रखें। इससे नमी कम नहीं होगी। यह पानी वाष्पीकरण की तरह काम करेगा और कमरे की हवा में नमी बनाए रखने में सहयोग करेगा।

2) कमरे की खिड़कियां या दरवाजे पूरी तरह बंद ना हों। क्योँकि बंद कमरे में हवा जहरीली हो जाती है। जिसके नुकसान ज्यादा हो सकता है।

3) हीटर की सर्विस कराते रहना चाहिए। सर्विस करने से यह अंदाजा रहेगा कि हीटर की ट्यूब, कॉइल और बैंड अच्छी तरह से काम कर रहे हैं। अगर ये चीजें खराब रहेंगी तो कमरे में अधिक कार्बन मोनोऑक्साइड का उत्सर्जन करेंगी।

4) हीटर को हमेशा उचित तापमान पर सेट करें ताकि आपका कमरा ज्यादा गर्म न हो।

5) हीटर का इस्तेमाल तो करें लेकिन इस पर भी ध्यान दें कि ये किस तरह आपकी सेहत और त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। 

6) ध्यान रखें हीटर के सामने कागज, ब्लैंकेट या लकड़ी वगैरह न हो।

7) हीटर को ऐसी जगह रखने से बचें जहां आपका आना-जाना ज्यादा हो। छोटे बच्चों की पहुंच दूर ही रखें। 

8) लगातार हीटर न चलाएं। बीच-बीच में इसे बंद करते रहें और कमरा खोलते रहे।

9) खाली बंद कमरे में हीटर न चलाकर छोड़ें. इससे कमरे में कार्बन मोनोऑक्साइड बन सकती है जो सेहत के लिए  नुकसानदायक है। यहां तक की सोते समय भी हीटर बंद कर दें। 

10) जिन लोगों को दिल से संबंधित समस्या होती है। या फिर सांस लेने में परेशानी या खांसी रहती है उन्हें हीटर का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

No comments