विटामिन ए की उपयोगिता-Utility of Vitamin-A

Share:

विटामिन ए की कमी से नुकसान in hindi, Vitamin A  deficiency & loss in hindi, सर्दी जुकाम और नाक-कान के रोग भी विटामिन ए की कमी से होते है in hindi, विटामिन ए की कमी से रतौंधी जैसे रोग हो सकते है in hindi, विटामिन ए की कमी से किसी भी व्यक्ति को फेफड़े और श्वास संबंधी रोग हो सकते है in hindi, विटामिन ए की कमी से हड्डियाँ और दाँत कमजोर हो जाते है in hindi, विटामिन ए की कमी से वजन घटने लगता है in hindi, विटामिन ए की कमी से त्वचा में चमक नही रह जाती है in hindi, विटामिन ए की कमी से कान में फोड़े-फुंसी की संभावना in hindi, विटामिन ए की कमी से लीवर में या मूत्राशय में पथरी बन सकती है in hindi, विटामिन ए की कमी से तपेदिक की संभावना हो सकती है in hindi, विटामिन ए की कमी से नाखून खराब होकर टूटने लगते है in hindi, विटामिन ए की कमी से सिर के बाल कमजोर होकर गिरने लगते है in hindi, विटामिन ए की कमी से बालों की कई प्रकार की समस्या होने लगती है in hindi, विटामिन ए की कमी से कील-मुहांसे और चर्म रोग होने की संभावना होती है in hindi, विटामिन ए की कमी से बच्चों के विकास पर बुरा असर पड़ता है in hindi, ,विटामिन ए की मात्रा in hindi, विटामिन ए की पूर्ति-आहार--in hindi,Vitamin A Diet in hindi, गाजर को विटामिन ए के लिए सबसे अच्छा माना जाता है in hindi, प्रतिदिन खाने से विटामिन ए की जरुरत का 334 प्रतिशत हिस्सा हमारे शरीर को मिलता है in hindi, आंखों के लिए भी गाजर बहुत अच्छा होता है in hindi, दूध को एक संपूर्ण आहार माना जाता है in hindi, इसमें बहुत सारे पोषक तत्व मौजूद होते है in hindi, दूध विटामिन ए के लिए अच्छा माना जाता है in hindi, यह हड्डियों के विकास और कोशिकाओं के बढने में मदद करता है in hindi, टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट के साथ- साथ विटामिन ए की प्रचूर मात्रा पाई जाती है in hindi, टमाटर में लाइकोपीन पाया जाता है  in hindi, जो कैंसर कोशिकाओं के विकास in hindi, विशेष रूप से प्रोस्टेट in hindi, पेट और कोलोरेक्टल कैंसर के नियंत्रण में काफी प्रभावी होता है in hindi, टमाटर में क्रोमियम पाया जाता है in hindi, जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखता है in hindi,  शकरकंद में विटामिन ए प्रचुर मात्रा में पाई जाती है in hindi, खासतौर पर नारंगी रंग के शकरकंद में इसकी भरपूर मात्रा होती है in hindi,  हरी सब्जियाँ खाने से आंखों की रोशनी तेज होती है in hindi, हरी सब्जियों में सभी तरह के विटामिन्स पाए जाते हैं in hindi, लाल शिमला मिर्च भी विटामिन ए का अच्छा स्त्रोत माना जाता है in hindi, लाल शिमला मिर्च दिखने में जितना अच्छा लगता है in hindi, इसके गुण भी उतने ही लाभकारी होते हैं in hindi,  इसमें कैरोटीनोइड और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं in hindi,  लाल शिमला मिर्च का प्रयोग सलाद के रुप में भी किया जा सकता है in hindi, और इसकी सब्जी भी बनाई जा सकती है in hindi,  मछली सेहत के लिए काफी फायदेमंद है in hindi, मछली में विटामिन ए भरपूर मात्रा में होती है in hindi,  मछली खाने से आंखों की रोशनी भी तेज होती है साथ ही दिमाग भी तेज होता है in hindi, इसलिए मछली को ब्रेन फूड भी कहा जाता है in hindi,  मछली में विटामिन ए के साथ- साथ ओमेगा- 3 और फैटी एसिड भी पाया जाता है in hindi, अंडा प्रोटीन और वसा के लिए जाना जाता है in hindi, लेकिन इसमें बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं in hindi, जो शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते है in hindi, अंडे में विटामिन ए की भी मात्रा पाई जाती है in hindi, जो हमारे शरीर में विटामिन ए की कमी को दूर करता है in hindi, कद्दू में सारे पोषक तत्वों के गुणों से भरपूर होता है in hindi, इसमें विशेष रूप से बीटा केरोटीन पाया जाता है in hindi, जो विटामिन ए के लिए उपयोगी होता है in hindi, कद्दू के बीज में भी कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं,  in hindi,  जो हमारी त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है in hindi, हरा धनिया में बहुत सारे गुण होते है in hindi, हरा धनिया विटामिन ए के लिए बहुत अच्छा माना जाता है in hindi,  हरा धनिया शरीर के लिए एंटी ऑक्सीडेंट के रुप में भी काम करता है in hindi, प्रतिदिन हरा धनिया खाने से किडनी की समस्या कम कम हो जाती है in hindi, विटामिन ए से फायदे in hindi, Vitamin A Benefits in hindi,  आँखों और मांसपेशियों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन ए अति आवश्यक माना जाता है in hindi, आँखों के रेटिना में पिगमेंट उत्पन्न करता है in hindi,  विटामिन ए शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में शरीर की कोशिकाओं को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाता है in hindi, विटामिन ए हृदय रोग in hindi, अस्थमा और मधुमेह जैसे रोगों से बचाव करता है in hindi, विटामिन ए शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूती प्रदान करता है in hindi,  विटामिन ए त्वचा स्वस्थ और चमकदार बनाएं रखता है in hindi,  विटामिन ए शरीर की सभी हड्डियों को ताकत in hindi, और मजबूती प्रदान करता है in hindi,  विटामिन ए स्नायु तंत्र in hindi, और मांसपेशियों को ताकत देता है in hindi,  विटामिन ए दांतों और मसूड़ों को रोगों से बचाता है in hindi और मजबूती प्रदान करता है in hindi,  विटामिन ए प्रजनन तंत्र और पुरुषों में स्पर्म का उचित मात्रा में निर्माण करता है in hindi, विटामिन ए शरीर को ऊर्जा देने वाली सभी कोशिकाओं के निर्माण के लिए भी विटामिन ए की जरूरत होती है in hindi,  विटामिन ए के कारण गुर्दे की पथरी in hindi, पाउडर बन कर शरीर से बाहर निकल आती है in hindi, विटामिन ए की कमी से नुकसान in hindi, Vitamin A  deficiency & loss in hindi, सर्दी जुकाम in hindi, और नाक-कान के रोग भी विटामिन ए की कमी से होते है। विटामिन ए की कमी से रतौंधी जैसे रोग हो सकते है। विटामिन ए की कमी से किसी भी व्यक्ति को फेफड़े और श्वास संबंधी रोग हो सकते है। विटामिन ए की कमी से हड्डियाँ और दाँत कमजोर हो जाते है। विटामिन ए की कमी से वजन घटने लगता है। विटामिन ए की कमी से त्वचा में चमक नही रह जाती है। विटामिन ए की कमी से कान में फोड़े-फुंसी की संभावना। विटामिन ए की कमी से लीवर में या मूत्राशय में पथरी बन सकती है। विटामिन ए की कमी से तपेदिक की संभावना हो सकती है। विटामिन ए की कमी से नाखून खराब होकर टूटने लगते है। विटामिन ए की कमी से सिर के बाल कमजोर होकर गिरने लगते है। विटामिन ए की कमी से बालों की कई प्रकार की समस्या होने लगती है। विटामिन ए की कमी से कील-मुहांसे और चर्म रोग होने की संभावना होती है। विटामिन ए की कमी से बच्चों के विकास पर बुरा असर पड़ता है।, विटामिन ए की उपयोगिता in hindi-Utility of Vitamin A in hindi, विटामिन ए आसानी से जल in hindi, तेल और वसा में घुलने वाला होता है in hindi, यह रेटिनॉइड  in hindi, और कैरोटिनॉइड के रूप में पाया जाता है in hindi, विटामिन ए गहरे रंग वाली सब्जियों in hindi, और फलों में पाया जाता है in hindi, और इसी कारण इन सब्जियों का गहरा in hindi, और चमकीला  रंग होता है in hindi, लगभग 600 प्रकार के कैरोटिनॉइड में से बीटा-कैरोटीन in hindi, अल्फा-कैरोटीन in hindi, और बीटा-जिन्थोफिल अधिक महत्वपूर्ण है in hindi, इसलिए इसे प्रोविटामिन ए भी कहा जाता है in hindi, विटामिन ए मुख्य रूप से दो रूपों में पाया जाता है in hindi, एक्टिव विटामिन ए in hindi, और बीटा कैरोटेने in hindi, एक्टिव विटामिन ए in hindi, (जिसे रेटिनॉल भी कहा जाता है) in hindi,  इसका स्रोत पशु-प्रधान है in hindi,  दूसरा विटामिन प्रोविटामिन  ए in hindi, जो फलों और सब्जियों से प्राप्त होता है in hindi, कैरोटिनॉइड कहलाता है in hindi,  विटामिन ए प्रतिरक्षा शक्ति को बढाता है in hindi,  कोशिकाओं को विकसित होने में मदद करता है in hindi, तथा त्वचा को मुलायम बनाता है in hindi, विटामिन ए आंखों से देखने के लिए अत्यंत आवश्यक होता है inhindi,  साथ ही यह बीमारी से बचने के काम आता है in hindi, यह विटामिन शरीर में अनेक अंगों को सामान्य रूप में बनाये रखने में मदद करता है in hindi, जैसे कि त्वचा in hindi, बाल in hindi, नाखून in hindi, ग्रन्थि in hindi, दांत in hindi, मसूडा और हड्डी in hindi, विटामिन ए की कमी से अंधेरे में कम दिखाई देना in hindi,  जिसे रतौंधी भी कहते हैं in hindi, इसके साथ आंखों में  in hindi, आंसू के कमी से आंख सूख जाते हैं  in hindi, और उसमें घाव भी हो सकता है in hindi, बच्चों में विटामिन ए in hindi, के अभाव में विकास की गति धीमी हो जाती है in hindi, इसके कारण उनके कद पर असर कर सकता है in hindi, त्वचा और बालों में भी सूखापन हो जाता है in hindi, और संक्रमित बीमारी होने का संभावना बढ़ जाती है in hindi,  दूध और दूध से उत्पादित खाद्य पदार्थ in hindi, हरी सब्जी in hindi, पीले सब्जी in hindi, पीले या नारंगी रंग के फल in hindi, अन्य कृत्रिम खाद्य पदार्थ in hindi, जिसमें विटामिन ए मिलाया गया हो in hindi, हमारे लिए उपयोगी कैरोटीनॉड्स in hindi, में बीटा-कैरोटीन बेहद जरूरी है in hindi, बीटा-कैरोटीन पौधों और फलों in hindi, (विशेषकर गाजर) में पाया जाने वाला एक लाल in hindi, नारंगी और पीला पिग्मेंट या रंग है in hindi, देखा जाए तो गहरे लाल in hindi, नारंगी और पीले रंग वाले फल और सब्जियों in hindi, से हमें बीटा-कैरोटीन प्राप्त होता है in hindi,  जैसे गाजर in hindi, पालक in hindi, टमाटर in hindi, सलाद पत्ता in hindi, शकरकंदी in hindi, ब्रोकली in hindi, सीताफल in hindi, खरबूजा in hindi, पपीता in hindi, आम in hindi, मटर in hindi, गोभी in hindi, लाल-पीली शिमला मिर्च in hindi, vitamin A in hindi, Vitamin A hindi, Vitamin A ke barein mein in hindi, Vitamin A kya hai in hindi, Vitamin A kisme hota hai in hindi, Vitamin A benefits in hindi, Vitamin A foods in hindi, Vitamin A ki kami in hindi, Vitamin A kisme paya jata hai in hindi, Vitamin A ke fayde in hindi, Vitamin A tablets for skin whitening in hindi, Vitamin A benefits for skin in hindi, Vitamin A kya khana chahiye in hindi, Vitamin A kis fruit me paya jata hai in hindi,  Vitamin A kis fruit me hota hai in hindi, Vitamin A ke liye kya khana chahiye in hindi, viamin E ke barein mein hindi, Vitamin A kya hai in hindi, Vitamin A ke avashyakta in hindi, Vitamin A kaise milta hain hinndi,  Vitamin A ki kami se kya hota hai  in hindi,  Vitamin A  ke fayde in hindi, Vitamin A ke karya in hindi,
विटामिन ए की उपयोगिता 
(Utility of Vitamin A)
  • विटामिन ए आसानी से जल, तेल और वसा में घुलने वाला होता है। यह रेटिनॉइड और कैरोटिनॉइड के रूप में पाया जाता है। विटामिन ए गहरे रंग वाली सब्जियों और फलों में पाया जाता है और इसी कारण इन सब्जियों का गहरा और चमकीला  रंग होता है। लगभग 600 प्रकार के कैरोटिनॉइड में से बीटा-कैरोटीन, अल्फा-कैरोटीन और बीटा-जिन्थोफिल अधिक महत्वपूर्ण है। इसलिए इसे प्रोविटामिन ए भी कहा जाता है। विटामिन ए मुख्य रूप से दो रूपों में पाया जाता है। एक्टिव विटामिन ए और बीटा कैरोटेने। एक्टिव विटामिन ए (जिसे रेटिनॉल भी कहा जाता है) इसका स्रोत पशु-प्रधान है। दूसरा विटामिन प्रोविटामिन  ए जो फलों और सब्जियों से प्राप्त होता है कैरोटिनॉइड कहलाता है। विटामिन ए प्रतिरक्षा शक्ति को बढाता है, कोशिकाओं को विकसित होने में मदद करता है तथा त्वचा को मुलायम बनाता है। विटामिन ए आंखों से देखने के लिए अत्यंत आवश्यक होता है। साथ ही यह बीमारी से बचने के काम आता है। यह विटामिन शरीर में अनेक अंगों को सामान्य रूप में बनाये रखने में मदद करता है जैसे कि त्वचा, बाल, नाखून, ग्रन्थि, दांत, मसूडा और हड्डी। विटामिन ए की कमी से अंधेरे में कम दिखाई देना जिसे रतौंधी भी कहते हैं। इसके साथ आंखों में आंसू के कमी से आंख सूख जाते हैं और उसमें घाव भी हो सकता है। बच्चों में विटामिन ए के अभाव में विकास की गति धीमी हो जाती है इसके कारण उनके कद पर असर कर सकता है। त्वचा और बालों में भी सूखापन हो जाता है और संक्रमित बीमारी होने का संभावना बढ़ जाती है।
  • दूध और दूध से उत्पादित खाद्य पदार्थ, हरी सब्जी, पीले सब्जी, पीले या नारंगी रंग के फल अन्य कृत्रिम खाद्य पदार्थ जिसमें विटामिन ए मिलाया गया हो। हमारे लिए उपयोगी कैरोटीनॉड्स में बीटा-कैरोटीन बेहद जरूरी है। बीटा-कैरोटीन पौधों और फलों (विशेषकर गाजर) में पाया जाने वाला एक लाल, नारंगी और पीला पिग्मेंट या रंग है। देखा जाए तो गहरे लाल, नारंगी और पीले रंग वाले फल और सब्जियों से हमें बीटा-कैरोटीन प्राप्त होता है। जैसे गाजर, पालक, टमाटर, सलाद पत्ता, शकरकंदी, ब्रोकली, सीताफल, खरबूजा, पपीता, आम, मटर, गोभी, लाल-पीली शिमला मिर्च, खुबानी आदि। 
विटामिन ए की मात्रा (Vitamin A Amount)
  • जन्म से 6 महीने  1333 IU or 400 mg
  • 6-12 महीने 1666 IU or 500 mg
  • 1-3 साल 1000 IU or 300 mg
  • 4-8 साल  1333 IU or 400 mg
  • 9-13 साल  2000 IU or 600 mg
  • 14-30 साल के पुरुष  3000 IU or 900 mg
  • 14 -30 साल के महिला  2333 IU or 700 mg
  • गर्भ के दौरान करीब 2500 IU or 750 mg
  • स्तनपान के दौरान करीब 4000 IU or 1200 mg
विटामिन ए की पूर्ति-आहार (Vitamin A Diet)
  • गाजर - गाजर को विटामिन ए के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। (Carrots are considered the best for vitamin A) प्रतिदिन खाने से विटामिन ए की जरुरत का 334 प्रतिशत हिस्सा हमारे शरीर को मिलता है। आंखों के लिए भी गाजर बहुत अच्छा होता है।
  • दूध - दूध को एक संपूर्ण आहार माना जाता है। (Milk is considered a complete diet) इसमें बहुत सारे पोषक तत्व मौजूद होते है। दूध विटामिन ए के लिए अच्छा माना जाता है यह हड्डियों के विकास और कोशिकाओं के बढने में मदद करता है।
  • टमाटर - टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट के साथ- साथ विटामिन ए की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। (Tomatoes are rich in antioxidants as well as vitamin A) टमाटर में लाइकोपीन पाया जाता है जो कैंसर कोशिकाओं के विकास, विशेष रूप से प्रोस्टेट, पेट और कोलोरेक्टल कैंसर के नियंत्रण में काफी प्रभावी होता है। टमाटर में क्रोमियम पाया जाता है जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखता है।
  • शकरकंद- शकरकंद में विटामिन ए प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। (Vitamin A is found in abundance in sweet potato) खासतौर पर नारंगी रंग के शकरकंद में इसकी भरपूर मात्रा होती है।
  • हरी सब्जियाँ- हरी सब्जियाँ खाने से आंखों की रोशनी तेज होती है। (Eating green vegetables brightens the eyesight) हरी सब्जियों में सभी तरह के विटामिन्स पाए जाते हैं।
  • लाल- लाल शिमला मिर्च भी विटामिन ए का अच्छा स्रोत माना जाता है। (Paprika is also considered a good source of Vitamin A) लाल शिमला मिर्च दिखने में जितना अच्छा लगता है। इसके गुण भी उतने ही लाभकारी होते हैं। इसमें कैरोटीनोइड और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं। लाल शिमला मिर्च का प्रयोग सलाद के रुप में भी किया जा सकता है और इसकी सब्जी भी बनाई जा सकती है।
  • मछली- मछली सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। (Fish is very beneficial for health) मछली में विटामिन ए भरपूर मात्रा में होती है। मछली खाने से आंखों की रोशनी भी तेज होती है साथ ही दिमाग भी तेज होता है। इसलिए मछली को ब्रेन फूड भी कहा जाता है। मछली में विटामिन ए के साथ- साथ ओमेगा- 3 और फैटी एसिड भी पाया जाता है।
  • अंडा प्रोटीन- अंडा प्रोटीन और वसा के लिए जाना जाता है। (Eggs are known for protein and fat) लेकिन इसमें बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते है। अंडे में विटामिन ए की भी मात्रा पाई जाती है। जो हमारे शरीर में विटामिन ए की कमी को दूर करता है।
  • कद्दू- कद्दू में सारे पोषक तत्वों के गुणों से भरपूर होता है। (Pumpkin is rich in all the nutritional properties) इसमें विशेष रूप से बीटा केरोटीन पाया जाता है जो विटामिन ए के लिए उपयोगी होता है। कद्दू के बीज में भी कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हमारी त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। 
  • हरा धनिया- हरा धनिया में बहुत सारे गुण होते है। (Green coriander has many properties) हरा धनिया विटामिन ए के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। हरा धनिया शरीर के लिए एंटी ऑक्सीडेंट के रुप में भी काम करता है। प्रतिदिन हरा धनिया खाने से किडनी की समस्या कम कम हो जाती है।
विटामिन ए से फायदे (Vitamin A Benefits)
  • आँखों और मांसपेशियों के लिए- आँखों और मांसपेशियों को स्वस्थ रखने के लिए (Vitamin-A) अति आवश्यक माना जाता है। आँखों के रेटिना में पिगमेंट उत्पन्न करता है। (Vitamin-A is considered essential for keeping the eyes and muscles healthy. it makes pigments in the retina of eyes).
  • शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट - Vitamin-A शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में शरीर की कोशिकाओं को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाता है। (Vitamin-A as a powerful antioxidant protects the body's cells from damage from free radicals).
  • हृदय रोग, अस्थमा और मधुमेह- Vitamin-A हृदय रोग, अस्थमा और मधुमेह जैसे रोगों से बचाव करता है। (Vitamin-A protects against diseases like heart disease, asthma and diabetes).
  • इम्यूनिटी के लिएVitamin-A शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूती प्रदान करता है। (Vitamin-A strengthens the body's immune system).
  • चमकदार के लिए- Vitamin-A त्वचा स्वस्थ और चमकदार बनाएं रखता है। (Vitamin-A keeps skin healthy and glowing).
  • हड्डियों की मजबूती- Vitamin-A शरीर की सभी हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है। (Vitamin-A strengthens all the bones of the body).
  • स्नायु तंत्र और मांसपेशियोंVitamin-A स्नायु तंत्र और मांसपेशियों को ताकत देता है। (Vitamin-A gives strength to the nervous system and muscles).
  • Vitamin-A दांतों और मसूड़ों के रोगों से बचाता है और मजबूती प्रदान करता है। (Vitamin-A prevents and strengthens the teeth and gums).
  • विटामिन ए प्रजनन तंत्र और पुरुषों में स्पर्म का उचित मात्रा में निर्माण करता है। विटामिन ए प्रजनन तंत्र और पुरुषों में स्पर्म का उचित मात्रा में निर्माण करता है।
  • Vitamin-A शरीर को ऊर्जा देने वाली सभी कोशिकाओं के निर्माण के लिए भी विटामिन ए की जरूरत होती है।
  • Vitamin-A के कारण गुर्दे की पथरी पाउडर बन कर शरीर से बाहर निकल आती है। (Kidney stones come out of the body due to vitamin-A and become powder).

विटामिन ए की कमी से नुकसान (Vitamin A  deficiency & loss)
  • सर्दी जुकाम और नाक-कान के रोग भी विटामिन ए की कमी से होते है।
  • विटामिन ए की कमी से रतौंधी जैसे रोग हो सकते है।
  • विटामिन ए की कमी से किसी भी व्यक्ति को फेफड़े और श्वास संबंधी रोग हो सकते है।
  • विटामिन ए की कमी से हड्डियाँ और दाँत कमजोर हो जाते है।
  • विटामिन ए की कमी से वजन घटने लगता है।
  • विटामिन ए की कमी से त्वचा में चमक नही रह जाती है।
  • विटामिन ए की कमी से कान में फोड़े-फुंसी की संभावना।
  • विटामिन ए की कमी से लीवर में या मूत्राशय में पथरी बन सकती है।
  • विटामिन ए की कमी से तपेदिक की संभावना हो सकती है।
  • विटामिन ए की कमी से नाखून खराब होकर टूटने लगते है।
  • विटामिन ए की कमी से सिर के बाल कमजोर होकर गिरने लगते है।
  • विटामिन ए की कमी से बालों की कई प्रकार की समस्या होने लगती है।
  • विटामिन ए की कमी से कील-मुहांसे और चर्म रोग होने की संभावना होती है।
  • विटामिन ए की कमी से बच्चों के विकास पर बुरा असर पड़ता है।


स्वस्थ स्वास्थ्य के लिए विटामिन जरूरी हैं