कैसे होता है पूजा में भूल-चूक का शुद्धीकरण? How is purification of forgiveness in worship?

Share:


कैसे होता है पूजा में भूल-चूक का शुद्धीकरण ?  in hindi, how is purification of forgiveness in worship? in hindi, kaise hota hai pooja mein bhool-chook ka shudheekaran?  in hindi, इन दिनों नवरात्रों का शुभ समय चल रहा है in hindi,  इस मृत्युलोक में उपस्थित व्यक्ति किसी न किसी प्रकार से माँ दुर्गा की भक्ति कर रहे हैं in hindi, प्राचीन काल से अब तक नौ दिनों तक प्रतिदिन व्रत प्रथा चल आ रही है in hindi, अनजाने में किसी भी प्रकार की भूल-चूक के लिए क्षमा याचना in hindi, पूजा के बाद नियमित रूप करना जरूरी होता है in hindi, These days the auspicious time of Navratri is going on in hindi, People present in this decease are worshiping Maa Durga in some way in hindi, Since ancient times in hindi, fasting practice is going on for nine days till now in hindi, Forgive for any kind of mistake inadvertently in hindi, regular formation after worship is necessary in hindi, नवरात्रों में क्षमा याचना के लिए इन मंत्रों का उच्चारण अवश्य करें in hindi, To apologize to the Navratras utter these mantras in hindi, अपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेहर्निशं मया in hindi, दासोयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वरी in hindi, आवाहनं न जानामि न जानामि विसर्जनम्  in hindi पूजां चैव न जानामि क्षम्यतां परमेश्वरी in hindi, मन्त्रहीनं क्रियाहीनं भक्तिहीनं सुरेश्वरी in hindi, यत्पूजितं मया देवि परिपूर्णं तदस्तु मे in hindi, अपराधशतं कृत्वा जगदम्बेति चोच्चरेत। in hindi,  यां गतिं सम्वाप्नोते न तां ब्रहमादयः सुराः in hindi, सापराधो स्मि शरणं प्राप्तस्त्वां जगदम्बिके in hindi,  इदानीमनुकम्प्योहं यथेच्छसि तथा कुरु in hindi, अक्षानाद्धिस्मृतेभ्र्रान्त्या यन्नयूनमधिकं कृतम् in hindi, तत्सर्वं क्षमयतां देवि प्रसीद परमेश्वरी in hindi,  कामेश्वरी जगन्मातः सच्चिदानन्दविग्रेहे in hindi, गृहाणार्चामिमां प्रीत्या प्रसीद परमेश्वरी in hindi, गृहातिगुहागोप्त्री त्वं गृहाणास्मत्कृतमं जपम्सि in hindi द्धिर्भवतु मे देवि त्वत्प्रसादात्सुरेश्वरि in hindi, कैसे-होता है-पूजा-में-भूल-चूक-का- शुद्धीकरण?, how-is-purification-of-forgiveness-in-worship?, कैसे होता है in hindi, कैसे होता है? in hindi,  भूल-चूक का शुद्धीकरण ? in hindi, शुद्धीकरण कैसे होता है?,संक्षमबनों इन हिन्दी में, संक्षम बनों इन हिन्दी में, sakshambano in hindi, saksham bano in hindi,भूल-चूक हिन्दी में, bhool chook ke liye in hindi, bhool- chook in hindi, भूल-चूक-क्षमा याचना के लिए in hindi, भूल-चूक-क्षमा याचना in hindi, क्यों सक्षमबनो इन हिन्दी में, क्यों सक्षमबनो अच्छा लगता है इन हिन्दी में?, कैसे सक्षमबनो इन हिन्दी में? सक्षमबनो ब्रांड से कैसे संपर्क करें इन हिन्दी में, सक्षमबनो हिन्दी में, सक्षमबनो इन हिन्दी में, सब सक्षमबनो हिन्दी में,अपने को सक्षमबनो हिन्दीं में, सक्षमबनो कर्तव्य हिन्दी में, सक्षमबनो भारत हिन्दी में, सक्षमबनो देश के लिए हिन्दी में,खुद सक्षमबनो हिन्दी में, पहले खुद सक्षमबनो हिन्दी में, एक कदम सक्षमबनो के ओर हिन्दी में, आज से ही सक्षमबनो हिन्दीें में,सक्षमबनो के उपाय हिन्दी में, अपनों को भी सक्षमबनो का रास्ता दिखाओं हिन्दी में, सक्षमबनो का ज्ञान पाप्त करों हिन्दी में,सक्षमबनो-सक्षमबनो हिन्दीें में, kiyon saksambano in hindi, kiyon saksambano achcha lagta hai in hindi, kaise saksambano in hindi, kaise saksambano brand se sampark  in hindi, sampark karein saksambano brand se in hindi, saksambano brand in hindi, sakshambano bahut accha hai in hindi, gyan ganga sakshambnao se in hindi, apne aap ko saksambano in hindi, ek kadam saksambano ki or in hindi,saksambano phir se in hindi, ek baar phir saksambano in hindi, ek kadam saksambano ki or in hindi, self saksambano in hindi, give advice to others for saksambano, saksambano ke upaya in hindi, saksambano-saksambano india in hindi, saksambano-saksambano phir se in hindi,, kaise hota hai shudhikaran hindi, नवरात्रों में क्षमा याचना के लिए इन मंत्रों का उच्चारण अवश्य करें, भूल-चूक-क्षमा याचना के लिए,

 भूल-चूक-क्षमा याचना के लिए 
कैसे होता है पूजा में भूल-चूक का शुद्धीकरण? 
(Kaise hota hai pooja mein bhool-chook ka shudhikaran? in hindi)
  • How is purification of forgiveness in worship? : इन दिनों नवरात्रों का शुभ समय चल रहा है इस मृत्युलोक में उपस्थित व्यक्ति किसी न किसी प्रकार से माँ दुर्गा की भक्ति कर रहे हैं। प्राचीन काल से अब तक नौ दिनों तक प्रतिदिन व्रत प्रथा चल आ रही है। अनजाने में किसी भी प्रकार की भूल-चूक के लिए क्षमा याचना, पूजा के बाद नियमित रूप करना जरूरी होता है। (These days the auspicious time of Navratri is going on. People present in this folk are worshiping Maa Durga anyhow. The fasting tradition is coming since ancient times for nine days till now. Forgive for any kind of mistake inadvertently, regular do apologize mantras after worship is necessary).

नवरात्रों में क्षमा याचना के लिए इन मंत्रों का उच्चारण अवश्य करें:
(To apologize to the Navratras utter these mantras)

अपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेहर्निशं मया।
दासोयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वरी।।

आवाहनं न जानामि न जानामि विसर्जनम् ।
पूजां चैव न जानामि क्षम्यतां परमेश्वरी।।

मन्त्रहीनं क्रियाहीनं भक्तिहीनं सुरेश्वरी।
यत्पूजितं मया देवि परिपूर्णं तदस्तु मे।।

अपराधशतं कृत्वा जगदम्बेति चोच्चरेत।
यां गतिं सम्वाप्नोते न तां ब्रहमादयः सुराः।।

सापराधो स्मि शरणं प्राप्तस्त्वां जगदम्बिके।
इदानीमनुकम्प्योहं यथेच्छसि तथा कुरु।।

अक्षानाद्धिस्मृतेभ्र्रान्त्या यन्नयूनमधिकं कृतम्।
तत्सर्वं क्षमयतां देवि प्रसीद परमेश्वरी।।

कामेश्वरी जगन्मातः सच्चिदानन्दविग्रेहे।
गृहाणार्चामिमां प्रीत्या प्रसीद परमेश्वरी।।

गृहातिगुहागोप्त्री त्वं गृहाणास्मत्कृतमं जपम्।
सिद्धिर्भवतु मे देवि त्वत्प्रसादात्सुरेश्वरि।।