आठवीं शक्ति महागौरी- Maa Mahagauri

Share:


आठवीं शक्ति महागौरी  हिन्दी में, आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है हिन्दी में,  इनका वर्ण पूर्णतः गौर है हिन्दी में,  इस गौरता की उपमा शंख, चन्द्र और कून्द के फूल की गयी है हिन्दी में,  महागौरी का सांसारिक स्वरूप माँ महागौरी को शिवा भी कहा जाता है हिन्दी में,  इनके एक हाथ में दुर्गा शक्ति का प्रतीक त्रिशूल है हिन्दी में, दूसरे हाथ में भगवान शिव का प्रतीक डमरू है हिन्दी में,  अपने सांसारिक रूप में महागौरी उज्ज्वल हिन्दी में,  कोमल, श्वेत वर्णी तथा श्वेत वस्त्रधारी और चतुर्भुजा हिन्दी में, इनके एक हाथ में त्रिशूल और दूसरे में डमरू है हिन्दी में, तीसरा हाथ वरमुद्रा में हैं हिन्दी में,  चौथा  हाथ एक गृहस्थ महिला की शक्ति को दर्शाता हुआ है हिन्दी में,  महागौरी को गायन और संगीत बहुत पसंद है हिन्दी में,  ये सफेद वृषभ यानी बैल पर सवार रहती है हिन्दी में,  इनके समस्त आभूषण आदि भी श्वेत है हिन्दी में,  महागौरी की उपासना से पूर्वसंचित पाप नष्ट हो जाते है हिन्दी में,  माँ ने शिव वरण के लिए कठोर तपस्या का संकल्प लिया था हिन्दी में, जिससे इनका शरीर काला पड़ गया था हिन्दी में,  इनकी तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने इनके शरीर को पवित्र गंगाजल से मलकर धोया हिन्दी में, तब वह विद्युत के समान गौर हो गया हिन्दी में,  इनका नाम महागौरी पड़ा हिन्दी में,   माँ महागौरी की पूजा से मधुमेह और आँखों की हर समस्या से छुटकारा हिन्दी में, तृष्णा, एकवीरा, एवं दुरत्यया कहलाती हिन्दी में, महागौरी की पूजा करते समय जहाँ तक हो सके गुलाबी रंग के वस्त्र पहनने चाहिए हिन्दी में,  महागौरी गृहस्थ आश्रम की देवी है हिन्दी में, गुलाबी रंग प्रेम का प्रतीक है हिन्दी में,  एक परिवार को प्रेम के धागों से ही गूथकर रखा जा सकता है हिन्दी में, इसलिए आज के दिन गुलाबी रंग पहनना शुभ रहता है हिन्दी में,    माता सीता ने श्री राम की प्राप्ति के लिए इन्हीं की पूजा की थी हिन्दी में,  माँ महागौरी श्वेत वर्ण की है हिन्दी में,  श्वेत रंग में इनका ध्यान करना अत्यंत लाभकारी होता है हिन्दी में, विवाह सम्बन्धी तमाम बाधाओं के निवारण हिन्दी में, मैं इनकी पूजा अति फलदायक होती है हिन्दी में,  पूजा में माँ को श्वेत या पीले फूल अर्पित करें हिन्दी में, पूजा मध्य रात्रि में की जाय तो इसके परिणाम ज्यादा शुभ होता है हिन्दी में,  अष्टमी के दिन माँ को नारियल का भोग लगाएं हिन्दी में, इस दिन नारियल को सिर से घुमाकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें हिन्दी में, ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है हिन्दी में, माँ महागौरी की पूजा से मधुमेह और आँखों की हर समस्या से छुटकारा मिलता है हिन्दी में, इसके साथ ही हर तरह बाधाएं दूर होती है हिन्दी में, माँ गौरी को दूध की कटोरी में रखकर चांदी का सिक्का अर्पित करें हिन्दी में, सिक्के को धोकर सदैव के लिए अपने पास रख लें हिन्दी में, mata mahagauri hindi, maa mahagauri katha in hindi, maa mahagauri story, maa mahagauri ke bare mein in hindi, maa mahagauri ka mahatva in hindi, maa mahagauri ki bhakti in hindi,  maamahagauri pooja in hindi, maa mahagauri se mangal hi mangal in hindi, mangalamayee jeevan ke lie mahagauri ki pooja in hindi, maa mahagauri ki utpati in hindi, mangalmayee mantra in hindi, dhyan-sadhna in hindi, mahagauri kavach in hindi, maa mahagauri pooja se vighn-badhayen door hoti hai in hindi, mahagauri in hindi, संक्षमबनों इन हिन्दी में, संक्षम बनों इन हिन्दी में, sakshambano in hindi, saksham bano in hindi, आठवीं-शक्ति-महागौरी in hindi, क्यों सक्षमबनो इन हिन्दी में, क्यों सक्षमबनो अच्छा लगता है इन हिन्दी में?, कैसे सक्षमबनो इन हिन्दी में? सक्षमबनो ब्रांड से कैसे संपर्क करें इन हिन्दी में, सक्षमबनो हिन्दी में, सक्षमबनो इन हिन्दी में, सब सक्षमबनो हिन्दी में,अपने को सक्षमबनो हिन्दीं में, सक्षमबनो कर्तव्य हिन्दी में, सक्षमबनो भारत हिन्दी में, सक्षमबनो देश के लिए हिन्दी में,खुद सक्षमबनो हिन्दी में, पहले खुद सक्षमबनो हिन्दी में, एक कदम सक्षमबनो के ओर हिन्दी में, आज से ही सक्षमबनो हिन्दीें में,सक्षमबनो के उपाय हिन्दी में, अपनों को भी सक्षमबनो का रास्ता दिखाओं हिन्दी में, सक्षमबनो का ज्ञान पाप्त करों हिन्दी में,सक्षमबनो-सक्षमबनो हिन्दीें में, kiyon saksambano in hindi, kiyon saksambano achcha lagta hai in hindi, kaise saksambano in hindi, kaise saksambano brand se sampark  in hindi, sampark karein saksambano brand se in hindi, saksambano brand in hindi, sakshambano bahut accha hai in hindi, gyan ganga sakshambnao se in hindi, apne aap ko saksambano in hindi, ek kadam saksambano ki or in hindi,saksambano phir se in hindi, ek baar phir saksambano in hindi, ek kadam saksambano ki or in hindi, self saksambano in hindi, give advice to others for saksambano, saksambano ke upaya in hindi, saksambano-saksambano india in hindi, saksambano-saksambano phir se in hindi, Maa-Mahagauri in hindi, Maa Mahagauri hindi, Mahagauri in hindi, Mahagauri photo, Mahagauri image, Mahagauri  JPEG, Mahagauri  JPG,

  माँ महागौरी की पूजा से मधुमेह और आँखों की हर समस्या से छुटकारा 

आठवीं शक्ति महागौरी 
  • आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है। इनका वर्ण पूर्णतः गौर है। इस गौरता की उपमा शंख, चन्द्र और कून्द के फूल की गयी है। महागौरी का सांसारिक स्वरूप माँं महागौरी को शिवा भी कहा जाता है। इनके एक हाथ में दुर्गा शक्ति का प्रतीक त्रिशूल है तो दूसरे हाथ में भगवान शिव का प्रतीक डमरू है। अपने सांसारिक रूप में महागौरी उज्ज्वल, कोमल, श्वेत वर्णी तथा श्वेत वस्त्रधारी और चतुर्भुजा है। इनके एक हाथ में त्रिशूल और दूसरे में डमरू है तो तीसरा हाथ वरमुद्रा में हैं और चौथे हाथ एक गृहस्थ महिला की शक्ति को दर्शाता हुआ है। महागौरी को गायन और संगीत बहुत पसंद है। ये सफेद वृषभ यानी बैल पर सवार रहती है। इनके समस्त आभूषण आदि भी श्वेत है। महागौरी की उपासना से पूर्वसंचित पाप नष्ट हो जाते है। माँ ने शिव वरण के लिए कठोर तपस्या का संकल्प लिया था जिससे इनका शरीर काला पड़ गया था। इनकी तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने इनके शरीर को पवित्र गंगाजल से मलकर धोया तब वह विद्युत के समान गौर हो गया और इनका नाम महागौरी पड़ा। महागौरी की पूजा करते समय जहाँ तक हो सके गुलाबी रंग के वस्त्र पहनने चाहिए। महागौरी गृहस्थ आश्रम की देवी है और गुलाबी रंग प्रेम का प्रतीक है। एक परिवार को प्रेम के धागों से ही गूथकर रखा जा सकता है इसलिए आज के दिन गुलाबी रंग पहनना शुभ रहता है।
  • माता सीता ने श्री राम की प्राप्ति के लिए इन्हीं की पूजा की थी। माँ महागौरी श्वेत वर्ण की है और श्वेत रंग में इनका ध्यान करना अत्यंत लाभकारी होता है।
  • विवाह सम्बन्धी तमाम बाधाओं के निवारण मैं इनकी पूजा अति फलदायक होती है। 
  • पूजा में माँ को श्वेत या पीले फूल अर्पित करें।
  • पूजा मध्य रात्रि में की जाय तो इसके परिणाम ज्यादा शुभ होता है।
  • अष्टमी के दिन माँ को नारियल का भोग लगाएं। इस दिन नारियल को सिर से घुमाकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है।
  • माँ महागौरी की पूजा से मधुमेह और आँखों की हर समस्या से छुटकारा मिलता है। इसके साथ ही हर तरह बाधाएं दूर होती है।
  • माँ गौरी को दूध की कटोरी में रखकर चांदी का सिक्का अर्पित करें। सिक्के को धोकर सदैव के लिए अपने पास रख लें।

ध्यान-साधना
वन्दे वांछित कामार्थे चन्द्रार्घकृत शेखराम्।
सिंहरूढ़ा चतुर्भुजा महागौरी यशस्वनीम्।।
पूर्णन्दु निभां गौरी सोमचक्रस्थितां अष्टमं महागौरी त्रिनेत्राम्
वराभीतिकरां त्रिशूल डमरूधरां महागौरी भजेम्।।
पटाम्बर परिधानां मृदुहास्या नानालंकार भूषिताम्।
मंजीर, हार, केयूर किंकिणी रत्नकुण्डल मण्डिताम्।।
प्रफुल्ल वंदना पल्ल्वाधरां कातं कपोलां त्रैलोक्य मोहनम्।
कमनीया लावण्यां मृणांल चंदनगंधलिप्ताम्।।

पूजा-पाठ
सर्वसंकट हंत्री त्वंहि धन ऐश्वर्य प्रदायनीम्।
ज्ञानदा चतुर्वेदमयी महागौरी प्रणमाभ्यहम्।।
सुख शान्तिदात्री धन धान्य प्रदीयनीम्।
डमरूवाद्य प्रिया अद्या महागौरी प्रणमाभ्यहम्।।
त्रैलोक्यमंगल त्वंहि तापत्रय हारिणीम्।
वददं चैतन्यमयी महागौरी प्रणमाम्यहम्।।

कवच
ओंकारः पातु शीर्षो मां, हीं बीजं मां, हृदयो।
क्लीं बीजं सदापातु नभो गृहो च पादयो।।
ललाटं कर्णो हुं बीजं पातु महागौरी माँ नेत्रं घ्राणो।
कपोत चिबुको फट् पातु स्वाहा मा सर्ववदनो।।


click here » माँ शैलपुत्री की पूजा से अखंण्ड सौभाग्य प्राप्त होता है