मुलायम बाल नेचुरल तरीके से शैम्पू अब नहीं- Soft hair naturally shampoo no more

Share:

 

How Can I Make My Hair Soft and Silky? in hindi,  manny tips to make your hair soft and silky in hindi, What are the causes of damaged hair? in hindi, Surprising Reasons Your Hair Is Falling Out in hindi,Best hair care practices to make hair silky in hindi, okra keratin for straight and silky hair in hindi, lady's hair mask natural hair conditioner in hindi, do keratin treatment of hair with lady's finger at home in hindi, sakshambano image, sakshambano ka udeshya in hindi, sakshambano ke barein mein in hindi, sakshambano ki pahchan in hindi, apne aap sakshambano in hindi, sakshambano blogger in hindi,  sakshambano  png, sakshambano pdf in hindi, sakshambano photo, Ayurveda Lifestyle keep away from diseases in hindi, sakshambano in hindi, sakshambano hum sab in hindi, sakshambano website, adopt ayurveda lifestyle in hindi, to get rid of all problems in hindi, Vitamins are essential for healthy health in hindi in hindi,bhindi pack for hair in hindi,ladies finger based keratin hair pack for silky straight hair in hindi, how to make lady finger hair mask in hindi, lady finger for silky smooth hair in hindi, lady finger paste for hair in hindi, unbelievable benefits of lady finger for hair in hindi, natural hair mask for long and strong hair in hindi, lady finger for silky smooth hair in hindi,  keratin treatment with lady finger in hindi, Restore hair growth naturally with advanced treatment  in hindi,

मुलायम बाल नेचुरल तरीके से शैम्पू अब नहीं
(Soft hair naturally shampoo no more) 

भिंडी में मौजूद फाइबर, आयरन, बीटा केराटिन, विटामिन सी, विटामिन ए, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस और फोलेट एसिड जैसे गुण होते है जो बालों में पोषक तत्वों की कमी पूरी करके बालों को मुलायम, चमकदार और स्ट्रेट बनाने में मददगार है। भिंडी का रस एक तरह से केराटिन क्रीम का काम करता है और ये बालों को नेचुरली सॉफ्ट और स्ट्रेट बनाने का कारगर तरीका है। केराटिन बालों में मौजूद नेचुरल प्रोटीन होता है जिसकी वजह से बालों में चमक दिखाई पड़ती है। हालांकि लगातार धूप, प्रदूषण और केमिकल्स के संपर्क में आने की वजह से बालों में मौजूद प्रोटीन कम होने लगता है और बाल ड्राई या झड़ने लगते हैं। ऐसे में बालों के नैचुरल प्रोटीन को फिर से बनाने के लिए किए जाने वाले ट्रीटमेंट को ही केराटिन प्रोटीन ट्रीटमेंट कहा जाता है। 

भिंडी का रस केराटिन झड़ते बालों की दवा

घर में भिंडी से करें बालों का केराटिन ट्रीटमेंट

 भिंडी का हेयर मास्क बालों का नेचुरल कंडीशनर

स्ट्रेट और सिल्की बालों के लिए भिंडी केराटिन

भिंडी करें बालों को डैंड्रफ मुक्त

भिंडी से केराटिन क्रीम बनाने के लिए 1 कप पानी में 19-20 भिंडी को छोटा-छोटा काटकर उबालें। अब इसे ठंडा करने के बाद पीस लें। इसके बाद इस मिक्स्चर को सूती कपड़े में डालकर छान लें। अब इसमें 1 चम्मच मक्के का आटा और पानी का पेस्ट बनाएं। यह बात ध्यान रखिए कि मक्के का आटा को सीधे ना मिलाए। बल्कि एक अलग कटोरी में थोड़ा सा पानी लें फिर उसमें एक चम्मच मक्के का आटा डालें ताकि उसमें गांठें नही पड़ें। फिर इसे भिंडी के पानी में मिक्स करें। इस मिक्चर को थोड़ी देर और उबालें और जब यह गाढ़ा घोल बन जाए तो गैस बंद कर दें। फिर इसमें 1 चम्मच नारियल का तेल और 1 चम्मच बादाम का तेल डालें। इसके बाद इसे अच्छी तरह मिक्स करके दो घंटे के लिए पूरे बालों पर हेयर कलर की तरह लगाए। करीब 2 घंटे बाद नॉर्मल पानी से अपने बालों को वॉश करें। 

कैसे लगाएंः बालों को छोटे-छोटे सेक्शन में डिवाइड करके क्रीम ऊपर से नीचे की तरफ लगाएं। फिर पूरे बालों में कंघी कर लें ताकि सब पर बराबर से क्रीम लग जाये। फिर बालों को शावर कैप से कवर कर लें और 2 घंटे बाद नॉर्मल पानी से बाल धो लें।  

अपने बालों को गर्म पानी से न धोएं (Best hair care practices to make hair silky) : अपने बालों को हमेशा ठंडे पानी से धोएं। यह करना कठिन है, खासकर सर्दियों के दौरान लेकिन विश्वास करें, परिणाम प्रयास के लायक हैं। चिकने बाल पाने के लिए यह एक आजमाई हुई और सच्ची तरकीब है। बालों को गर्म पानी से धोने से बाल क्यूटिकल खुल जाते हैं। दूसरी ओर ठंडा पानी क्यूटिकल्स को सील करने में मदद करता है जिससे स्ट्रैस को सपाट रहने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। बाल धोने की बात करें तो इसमें अति न करें। हफ्ते में दो या तीन बार से ज्यादा बाल धोने से आपके बालों का प्राकृतिक तेल खत्म हो जाता है और वे बेजान हो जाते हैं।

अपनाएं आयुर्वेद लाइफस्टाइल-Adopt Ayurveda Lifestyle in hindi

No comments