गुनगुने दूध में मिश्री मिलाकर पीने से फायदे- Benefits of drinking sugar candy in lukewarm milk

Share:

 

गुनगुने दूध में मिश्री मिलाकर पीने से फायदे in hindi, Benefits of drinking sugar candy in lukewarm milk in hindi, dudh mishri peene ke fayde in hindi, doodh mishri ke fayde in hindi, Use Mishri With Milk in hindi,Mishri Milk Benefits in hindi, Mishri Is Beneficial For Health in hindi, Health Benefits of Drinking Milk With Rock Sugar Or Doodh in hindi, sakshambano in hindi, sakshambano website, sakshambano article in hindi, sakshambano pdf in hindi, sakshambano  jpeg, sakshambano sab in hindi, kaise sakshambano  in hindi,

गुनगुने दूध में मिश्री मिलाकर पीने से फायदे

(Benefits of drinking sugar candy in lukewarm milk)

आयुर्वेद में दूध और मिश्री दोनों को ही प्राकृतिक औषधि माना गया है। जब इन दोनों का मेल होता है तो इससे मिलनेवाले हेल्थ बेनेफिट्स कमाल के होते हैं। दूध में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कैल्शियम, नियासिन, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयोडीन, मिनरल्स, फैट, ऊर्जा, राइबोफ्लेविन (विटामिन बी -2) के अलावा विटामिन ए, डी, के और ई मौजूद होते हैं, जबकि मिश्री का भी अपना एक खास महत्व है. वहीं मिश्री का उपयोग कई बीमारियों के खिलाफ किया जाता है। दूध में मिश्री एक एंटासिड एजेंट के तौर पर काम करती है। चीनी के अनरिफाइंड रूप को ही मिश्री कहा जाता है। इसे मुख्य रूप से गन्ने और खजूर के रस से तैयार किया जाता है। 

याददाश्त रहेगी मजबूत (Memory will be strong) : मिश्री का दूध का सोने से पहले सेवन करने पर याददाश्त मजबूत होती है दिमाग तेज होता है. इसके सेवन से टेंशन और मानसिक थकान भी दूर होती है।

दिमाग को शांत करे (Calm the mind) : मिश्री में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो आपकी एनर्जी को तुरंत सही करके आपके मूड को फ्रेश करने में मदद करता है। अगर आपके दिमाग में ज्यादा भार पड़ रहा है या फिर आपका मन शांत नहीं है तो दूध के साथ मिश्री का सेवन कर लें। 

अच्छी नींद के लिए (To sleep well) : रात में नींद नहीं आती, तो मिश्री वाला दूध काफी  फायदेमंद है। गुनगुने दूध में मिश्री मिलाकर पीने से रात को अच्छी और गहरी आती है।

आंखों के लिए फायदेमंद (Beneficial for eyes) : गुनगुने दूध में मिश्री डालकर नियमित रूप से सेवन करना आंखों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। 

पाचन तंत्र के लिए (For digestive system) : मिश्री  में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो डाइजेशन को तेजी से काम करने में मदद करता है। दूध के साथ इसका सेवन करने से अपच, कब्ज, एसिडिटी जैसी समस्याओं से भी निजात मिलता है। अगर आप एसिडिटी की समस्या से अधिकतर परेशान रहते हैं तो ठंडे दूध में थोड़ी सी मिश्री मिलाकर इसका सेवन करे। 

सर्दी-जुकाम में (In a cold) : बदलते मौसम के कारण अधिकतर लोगों को सर्दी-जुकाम और खांसी की समस्या हो जाती हैं। ऐसे में एक गिलास गर्म दूध में मिश्री मिलाकर पी लें। दिन में 2 बार ऐसा करने से आपको तुंरत लाभ मिलेगा।

एनीमिया की कमी दूर करें (Overcome anemia deficiency) : एनीमिया होने पर बॉडी में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है, दूध में मिश्री के सेवन से हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने मदद मिलती है।

मुंह के छालों को दूर करने के लिए (To remove mouth ulcer [chhale]) : मुंह के छालों को दूर करने के लिए मिश्री के दूध का सेवन किया जा सकता है। इसके लिए आप ठंडे दूध में मिश्री मिलाकर किसी भी समय सेवन कर सकते हैं।

वजन कम करने के लिए (To lose weight) : मिश्री को सौंफ के साथ पीसकर तैयार पाउडर में से एक चम्मच नियमित इस्तेमाल करने से बढ़ते हुए वजन को नियंत्रित किया जा सकता है। आप चाहें तो वजन कम करने में मिश्री के फायदे हासिल करने के लिए सौंफ की जगह धनिया पाउडर को भी उपयोग में ला सकते हैं।

ऊर्जा बढ़ाने के लिए (To increase energy) : मिश्री सेवनशारीरिक थकान को खत्म करने और ऊर्जा बढ़ाने के लिए मिश्री युक्त दूध का सेवन फायदेमंद है। मिश्री ठंडी होती है, इसलिए इसका सेवन शरीर में ताजगी लाता है, थकान दूर करके ऊर्जा प्रदान करता है। 


अपनाएं आयुर्वेद लाइफस्टाइल (Adopt ayurveda lifestyle in hindi)

No comments