Health Benefits Of Bitter Gourd-करेले के स्वास्थ्य लाभ

Share:

 

करेले के स्वास्थ्य लाभ
(Health Benefits Of Bitter Gourd)

करेला मधुमेह diabetes के साथ-साथ कई और रोगों diseases में भी लाभ पहुंचाता है। मधुमेह के रोगी विशेषतः करेला bitter gourd के रस, और सब्जी का सेवन करते हैं। करेला का सेवन अनेक बीमारियों जैसे- पाचनतंत्र digestive system की खराबी, भूख की कमी, पेट दर्द, बुखार, और आंखों के रोग में लाभ पहुंचाता है। 

health-benefits-of-bitter-gourd-करेले-के-स्वास्थ्य-लाभ, कोरोना काल में करेला बहुत फायदेमंद bitter gourd in corona period is very beneficial in hindi, bitter gourd ke fayde in hindi, करेले के फायदे कर देंगे हैरान the benefits of bitter gourd will surprise you in hindi, करेले के बीज जड़ और पत्तियां भी फायदेमंद bitter gourd seeds root and leaves are also beneficial in hindi, करेले के गुणकारी फायदे health benefits of bitter gourd in hindi, करेले खाने से स्वास्थ्य निरोग बनता है eating bitter gourd makes health healthy in hindi, अपनाएं आयुर्वेद लाइफस्टाइल adopt ayurveda lifestyle in hindi, karela ke fayde in hindi, karela ke beej ke fayde in hindi, karele ki photo, karela karele jpeg, karela karele image, सक्षमबनो इन हिन्दी में, sakshambano, sakshambano ka uddeshya, latest viral post of sakshambano website, sakshambano pdf hindi,

करेले से कमजोरी weakness दूर होती है, और जलन, कफ, सांसों से संबंधित विकार में लाभ मिलता है। चिड़चिड़ाहट irritability, सुजाक, बवासीर आदि में भी करेले से फायदा benefit मिलता है। करेला के बीज घाव, आहार नलिका, तिल्ली विकार, और लिवर से संबंधित समस्याओं में करेला लाभदायक होता है। करेला एंटीवायरल और एंटीबायोटिक गुणों से भरपूर होता है। इसमें विटामिन-सी और विटामिन-ए भी मिलता है, विटामिन-सी हमारे बॉडी के रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी की इम्यूनिटी immunity बढ़ाने में मददगार है। इसके अलावा करेले का सेवन कई तरह की बीमारियों से बचाता है। 

करेले के फायदे हैरान कर देंगे (The benefits of bitter gourd will surprise you)

1) सिरदर्द की समस्या के लिए करेले को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं जो लोग अपने भोजन में करेले का उचित मात्रा में उपयोग करते हैं, उन्हें सिरदर्द जैसी समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता है।

2) करेले में ऐंटिबायॉटिक और ऐंटिवायरल गुणों से भरपूर होता है। इसमें विटमिन-सी और विटमिन-ए भी पाया जाता है। विटमिन सी हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है जबकि विटमिन ए आंखों की रोशनी को बनाए रखने का काम करता है। 

3) करेले में फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। यह कफ, कब्ज और पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करता है। इसके सेवन से भोजन का पाचन ठीक तरह से होता है।

4) अस्थमा की शिकायत होने पर करेला बेहद फायदेमंद होता है। दमा रोग में करेले की बगैर मसाले सब्जी खाने से लाभ मिलता है।

5) पेट में गैस बनने और अपच होने पर करेले के रस का सेवन करना अच्छा होता है, जिससे लंबे समय के लिए यह बीमारी दूर हो जाती है। 

करेले के बीज, जड़ और पत्तियां भी फायदेमंद (Bitter gourd seeds, root and leaves are also beneficial)

6) करेले में एंटी-एलर्जन और एनाल्जेसिक सर्दी खांसी से राहत प्रदान करने और इस रोकन में काफी सहायक है।

7) घाव पर करेले के जड़ को पीस कर लगाने से घाव पक जाता है और मवाद भी निकल जाता है। इससे घाव जल्दी ठीक हो जाता है। 

8) करेले का जूस पीने से लीवर मजबूत होता है और लीवर की सभी समस्याएं खत्म हो जाती है। प्रतिदिन इसके सेवन से एक सप्ताह में परिणाम प्राप्त होने लगते हैं। इससे पीलिया में भी लाभ मिलता है।

9) करेला मुंह के छालों के लिए फायदेमंद है करेले की पत्तियों का रस निकालकर उसमें थोड़ मुलतानी मिट्टी मिलाकर पेस्ट बना ले।

10) लकवा या पैरालिसिस में भी करेला बहुत कारगर उपाय है। इसमें कच्चा करेला खाने से रोगी के लिए लाभदायक होता है। 

करेले के गुणकारी फायदे (Health benefits of bitter gourd)

11) खून साफ करने के लिए भी करेला का अपना महत्वपूर्ण योगदान होता है। मधुमेह में यह बेहद असरकारक माना जाता है। मधुमेह में एक चैथाई कप करेले का रस, उतने ही गाजर के रस के साथ पीने पर लाभ मिलता है।

12) खूनी बवासीर में करेला अत्यंत लाभदायक है। एक चम्मच करेले के रस में आधा चम्मच शक्कर लिाकर पीने से इसमें आराम होता है।

13) पथरी रोगियों को दो करेले का रस पीने और करेले की सब्जी खाने से आराम मिलता है। इससे पथरी गलकर बाहर निकल जाती है।

14) गठिया व हाथ पैरों में जलन होने पर करेले के रस की मालिश करना लाभप्रद होता है।

करेले खाने से स्वास्थ्य निरोग बनता है (Eating bitter gourd makes health healthy)

15) किडनी की समस्याओं में करेले का उबला पानी व करेले का रस दोनों ही बेहद लाभकारी होते हैं। यह किडनी को सक्रिय कर हानिकारक तत्वों को शरीर से बाहर करने में मदद करता है।

16) ह्दय संबंधी समस्याओं के लिए करेला एक बेहतर इलाज है। यह हानिकारक वसा को ह्दय की धमनियों में जमने नहीं देता जिससे रक्तसंचार व्यवस्थित बना रहता है, और हार्ट अटैक की संभावना नहीं होती।

17) नींबू के रस के साथ करेले के रस को चेहरे पर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं और त्वचा रोग नहीं होते।

18) कैंसर से लड़ने के लिए करेले के रस का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है। 

अपनाएं आयुर्वेद लाइफस्टाइल (Adopt ayurveda lifestyle in hindi)


No comments